Posts

Showing posts with the label Hindi grammer knowledge

कहावतें (लोकोक्तियाँ )-Hindi Proverbs

कहावत का अर्थ है ' कही बात ' इसका दूसरा नाम लोकोक्ति भी है |लोकोक्ति का अर्थ है ' लोगो में कही जानेवाली       उक्ति ' |
               कहावतों से कथन की पुष्टि होती हैं और भाषा -
 सौन्दर्य बढ़ जाता है |इनसे रचना चमक उठती है |
      नीचे कुछ कहावतें भावार्थ के साथ दी जाती हैं |आवश्यकतानुसार उनके प्रयोग दे दिए गए हैं |       

अधजल गगरी छलकत जाए - ( ओछा मनुष्य घमण्ड करता है)  : प्रयोग-   सुशील  बतचीत के दौरान सबको उपदेश देता है ,जैसे वह बहुत बड़ा विद्वान हो |मगर सच्चाई तो यह है कि वह मैट्रिक फेल है | ठीक ही  कहा गया है - 'अधजल गगरी छलकत जाए ' |
अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ता -( बढ़ा काम एक आदमी से  नहीं हो सकता  ) :                                             प्रयोग - बेचन लड़की के बड़े कुन्दे को अकेले अपने सिर पर उठा लेना चाहता था, पर वह उसे हिला न सका, यह देखकर मैंने कहा -'  अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ता'|
अन्धों में काना राजा= (मूर्खो में कुछ पढ़ा-लिखा व्यक्ति) 
प्रयोग- मेरे गाँव में कोई पढ़ा-लिखा व्यक्ति तो है नही; इसलिए गाँववाले पण्डित अनोखेराम को ही सब कुछ समझत…

पर्यायवाची शब्द-Paryayvachi Shabd (Synonyms Words)

Image
पर्यायवाची शब्द -           
    paryayvachishabd(synonyms word)

ऊपर दिखाए गए चित्रों की तरह  एक ही शब्द के लिए समान
अर्थवाले अनेक शब्दों का हम प्रयोग करते हैं |समान अर्थ रखनेवाले ऐसे शब्दों को पर्यायवाची शब्द कहते हैं |      निम्नलिखित पर्यायवाची शब्द को जानिए :
अंग-भाग,अवयव, हिस्सा , अंश | अंकुश- नियंत्रण, पाबंदी, रोक, दबाव।
अंजाम- नतीजा, परिणाम, फल।
अंत- समाप्ति, अवसान, इति, इतिश्री, समापन।
अंतर- भिन्नता, असमानता, भेद, फर्क।
अंतरिक्ष- खगोल, नभमंडल, गगनमंडल, आकाशमंडल।
अंतर्धान- गायब, लुप्त, ओझल, अदृश्य।
अंदर- भीतर, आंतरिक, अंदरूनी, अभ्यंतर।
अंदाज- अंदाजा, अटकल, कयास, अनुमान।
अंधा- सूरदास, आँधरा, नेत्रहीन, दृष्टिहीन।
अंधेरा- तम, तिमिर, तमिस्र, अँधकार  |
अंबर- आकाश, आसमान, गगन, फलक, नभ |
अंबु- जल, पानी, नीर, क्षीर, सलिल, वारि।
अंबुज- कमल, पंकज, नीरज, वारिज, जलज, सरोज, पदम।
अंबुद- मेघ, बादल, घन, घनश्याम, अंबुधर, घटा।
अंबुनिधि- समुंदर, सागर, सिंधु, जलधि, उदधि, जलेश।
अंशु- रश्मि, किरन, किरण, मयूख, मरीचि।
अंशुमान- सूरज, सूर्य, रवि, दिनकर, दिवाकर, प्रभाकर, भास्कर।
अकिंचन- गरीब, निर्धन, दीनहीन, दरिद्र। अमृत- सु…

Hindi Muhavare aur arth ( हिन्दी मुहावरा का अर्थ और वाक्य )

हिन्दीमुहावरे और उनके अर्थ वाक्य में प्रयोग 
Hindi Muhavare aur arth मुहावरों के शब्दों का प्रत्यक्ष अर्थ नहीं बल्कि लाक्षणिक या सांकेतिक अर्थ लिया जाता है. उदाहरण के लिए 'उतारना'शब्द ले. इसका वास्तविक अर्थ 'ऊपर से नीचे लाना 'है. अगर हम 'गाड़ी से उतरना ' या टेबुल से उतरता कहे तो ऐसा कहना मुहावरा नहीं होगा क्योंकि  इन दोनों कथनो में 'उतारना 'का असली अर्थ लिया गया है. हाँ अगर 'नक्सा उतारना ' या 'दिल से उतारना 'कहे तो ये मुहावरा कहलायेंगे, क्योंकि इन दोनों अवस्थाओं में सांकेतिक अर्थ लिये गये हैं.   मुहावरा का परिभाषा     ऐसे वाक्यांश जो अपने सामान्य अर्थ ग्रहण कर लेते हैं,   उन्हें मुहावरा कहते हैं. उदाहरण के लिए 'अगर-मगर करना' का अर्थ है -टालमटोल करना| नीचे हिंदी मे प्रचलित कुछ मुहावरे के अर्थ तथा उनके प्रयोग दिए गए हैं :-

Viparit Sabda in Hindi -विलोम शब्द

रचना को  महापुरुषों के लिए निन्दा-स्तुति समा  .    
  ३. जो उदार हैं, वे कृपण नही हो सकते.
विपरीत शब्द किसे कहते हैं ?
 किसी शब्द का विपरीत अर्थ प्रकट करनेवाले शब्दो को विलोम शब्द या विपरीत शब्द कहते हैं |
 नित्य प्रयोग में लाये जानेवाला कुछ ऐसे विपरीतार्थक शब्द नीचे दिये जा रहे हैं -
  शब्द            विलोम शब्द

  ⇓ ⇓
  अकाम             सकाम
  अकाल            सुकाल
  अकर्मण्य          कर्मण्य
  अखाद्य             खाद्य
  अग्र                 पश्चात
  अग्राह्य              ग्राह्य
  अग्रज              अनुज
  अग्रगामी           अनुगामी
  अगम               सुगम
  अग्नि                जल
  अचल               चल
  अच्युत               च्युत
  अति                 न्यून /अल्प
  अतिवृष्टि             अनावृष्टि
  अंतरंग             बहिरंग
  अतल              वितल
  अथ                इति
  अर्थ                 अनर्थ
  अधम                उत्तम
  अधिक              न्युन
  अधुनातन           पुरातन
  अधोगामी           उर्ध्वगामी
  अनाथ              सनाथ
  अनन्त               सांत
  अनादृत          …