Posts

Showing posts from April, 2019

कहावतें (लोकोक्तियाँ )-Hindi Proverbs

कहावत का अर्थ है ' कही बात ' इसका दूसरा नाम लोकोक्ति भी है |लोकोक्ति का अर्थ है ' लोगो में कही जानेवाली       उक्ति ' |
               कहावतों से कथन की पुष्टि होती हैं और भाषा -
 सौन्दर्य बढ़ जाता है |इनसे रचना चमक उठती है |
      नीचे कुछ कहावतें भावार्थ के साथ दी जाती हैं |आवश्यकतानुसार उनके प्रयोग दे दिए गए हैं |       

अधजल गगरी छलकत जाए - ( ओछा मनुष्य घमण्ड करता है)  : प्रयोग-   सुशील  बतचीत के दौरान सबको उपदेश देता है ,जैसे वह बहुत बड़ा विद्वान हो |मगर सच्चाई तो यह है कि वह मैट्रिक फेल है | ठीक ही  कहा गया है - 'अधजल गगरी छलकत जाए ' |
अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ता -( बढ़ा काम एक आदमी से  नहीं हो सकता  ) :                                             प्रयोग - बेचन लड़की के बड़े कुन्दे को अकेले अपने सिर पर उठा लेना चाहता था, पर वह उसे हिला न सका, यह देखकर मैंने कहा -'  अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ता'|
अन्धों में काना राजा= (मूर्खो में कुछ पढ़ा-लिखा व्यक्ति) 
प्रयोग- मेरे गाँव में कोई पढ़ा-लिखा व्यक्ति तो है नही; इसलिए गाँववाले पण्डित अनोखेराम को ही सब कुछ समझत…